कभी ये सब भी ब्लॉग लिखते थे आज नहीं लिख रहे हैं.याद फिर भी हैं ये हमारे अपने .

ब्लॉगर रुपेश श्रीवास्तव

http://2.bp.blogspot.com/-KoM9GhN2PIs/T6q4fZI9q2I/AAAAAAAAExA/CPII_qaVmS8/s320/405015_3477588653577_1087065673_33098707_985601131_n.jpg



ब्लॉगर रुपेश श्रीवास्तव

5 comments:

  1. ईश्वर से उनके लिए अशेष दुआयें !



    ( संयोग ये कि उनके हाथों में मौजूद किताब हमारे अंचल की पड़ताल करती है )

    ReplyDelete
  2. इनके संबंध में विस्‍तार से जानकारी दी जानी चाहिए, ऐसा मेरा मानना है।

    ReplyDelete
  3. avinaash ji ki baat se sahamat hoon is vishay main vaki vistaar se jaankaari di jaani chaahiye...

    ReplyDelete
  4. विनम्र श्रद्धांजलि...

    ReplyDelete